फॉरेक्स ट्रेडिंग मार्केट कैसे काम करती है

मोमेंटम इंडिकेटर

मोमेंटम इंडिकेटर
शेयर बाजार में कमजोरी दिखाने वाले शेयरों की करें तो मोमेंटम इंडिकेटर मूविंग एवरेज मोमेंटम इंडिकेटर कन्वर्जेंस या एमएसीडी के हिसाब से जयप्रकाश एसोसिएट्स, आरवीएनएल, कोचीन शिपयार्ड, टाटा केमिकल्स के शेयरों में कमजोरी दर्ज की जा सकती है.

शेयर मार्केट

NCC, साउथ इंडियन बैंक और इंडस टावर के शेयर आज आपको बना सकते हैं अमीर, लगाएंगे दांव

अगर बात पूरे बाजार की करें तो कारोबार के बीच में उतार-चढ़ाव बना रहा. बैंक निफ्टी में 0.7 फ़ीसदी की कमजोरी दर्ज की गई. मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के रिटेल रिसर्च हेड सिद्धार्थ खेमका ने कहा, “दलाल स्ट्रीट पर इस समय तेजड़ियों का बोलबाला है. फेस्टिव सीजन के पहले वह सेंसेक्स और निफ्टी को नई ऊंचाई पर ले जाना चाहते हैं.”

निफ्टी शुरुआत में कमजोरी पर खुला था लेकिन निचले स्तर पर वैल्यू बाइंग की वजह से इंडेक्स को रिकवर करने में मदद मिली. गुरुवार को निफ्टी 52 अंक चढ़कर 17564 के लेवल पर बंद हुआ. निफ्टी ने 17400 के लेवल के आसपास सपोर्ट ले लिया है और लगातार तीसरे दिन इसने इस सपोर्ट को मेंटेन किया है.

इससे यह मोमेंटम इंडिकेटर समझ आता है कि निफ्टी ने 17400 के लेवल के आसपास मजबूत बेस बना लिया है. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के टेक्निकल रिसर्च एनालिस्ट नागराज शेट्टी ने कहा, “निफ्टी के 15 मिनट के चार्ट मोमेंटम इंडिकेटर को गंभीरता से देखें तो निफ्टी में दिन के कारोबार की शुरुआत कमजोरी से हुई. इसके बाद खरीदारी का जोड़ बढ़ने से तेजी की तरफ आ गया. छोटी अवधि में निफ्टी अप ट्रेंड में है और पिछले हाई से ऊपर निकल चुका है.”

NCC, साउथ इंडियन बैंक और इंडस टावर के शेयर आज आपको बना सकते हैं अमीर, लगाएंगे दांव

अगर बात पूरे बाजार की करें तो कारोबार के बीच में उतार-चढ़ाव बना रहा. बैंक निफ्टी में 0.7 फ़ीसदी की कमजोरी दर्ज की गई. मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के रिटेल रिसर्च हेड सिद्धार्थ खेमका ने कहा, “दलाल स्ट्रीट पर इस समय तेजड़ियों का बोलबाला है. फेस्टिव सीजन के पहले वह सेंसेक्स और निफ्टी को नई ऊंचाई पर ले जाना चाहते हैं.”

निफ्टी शुरुआत में कमजोरी पर खुला मोमेंटम इंडिकेटर था लेकिन निचले स्तर पर वैल्यू बाइंग की वजह से इंडेक्स को रिकवर करने में मदद मिली. गुरुवार को निफ्टी 52 अंक चढ़कर 17564 के लेवल पर बंद हुआ. निफ्टी ने 17400 के लेवल के आसपास सपोर्ट ले लिया है और लगातार तीसरे दिन इसने इस सपोर्ट को मेंटेन किया है.

इससे यह समझ आता है कि निफ्टी ने 17400 के लेवल के आसपास मजबूत बेस बना लिया है. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के टेक्निकल रिसर्च एनालिस्ट नागराज शेट्टी ने कहा, “निफ्टी के 15 मिनट के चार्ट को गंभीरता से देखें तो निफ्टी में दिन के कारोबार की शुरुआत कमजोरी से हुई. इसके बाद खरीदारी का जोड़ बढ़ने से तेजी की तरफ आ गया. छोटी अवधि में निफ्टी अप ट्रेंड में है और पिछले हाई से ऊपर निकल चुका है.”

MACD Indicator Best Strategy Secret in Hindi

MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर एक ट्रेंडफोलोविंग और मोमेंटम इंडिकेटर है जिसका इन्वेंशन 1979 में Gerald Appel ने किया था, MACD ( एमएसीडी ) का फुल फॉर्म Moving Average Convergence Divergence है। MACD ( एमएसीडी ) आज भी एक विश्वशनीय इंडिकेटर है जो इंट्राडे ट्रेडर्स को ट्रडिंगे डिसीजन लेने में काफी मदद करता है।

MACD ( एमएसीडी ) एक प्राइस बेस्ड इंडिकेटर है। जो शेयर की कीमतों में हुए परिवर्तन को मूविंग एवरेज की सहायता से प्रदर्शित करता है।

MACD ( एमएसीडी ) Indicator के लाभ

  1. MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर एक मोमेंटम और ट्रेंड फॉलोविंग इंडिकेटर है जिसे आसानी से प्राइस साथ प्लॉट किया जा सकता है।
  2. MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर , एक प्राइस बेस्ड इंडिकेटर होने के कारण थोड़ा लेट सिग्नल देता है पर इसके बाइंग और सेल्लिंग का सिग्नल एक्यूरेट होता है।
  3. MACD ( एमएसीडी ) मोमेंटम इंडिकेटर इंडिकेटर , मूविंग एवरेज की सहायता से बनता है जिसे चार्ट पर लाइन के माध्यम से प्रदर्शित किया जाता है जिससे की समझने में आसानी होती है।
  4. MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर को किसी भी टाइमफ्रेम में देखा जा सकता है और ये सभी ट्रेडिंग प्लेटफार्म पर आसानी से उपलब्ध है।
  1. MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर , एक प्राइस बेस्ड इंडिकेटर होने के कारण थोड़ा लेट सिग्नल देता है
  2. MACD ( एमएसीडी ) इंडिकेटर पूर्ण रूप से एक्यूरेट नहीं है।

MACD ( एमएसीडी ) Indicator के घटक

MACD ( एमएसीडी ) LINE

MACD ( एमएसीडी ) लाइन को चार्ट पर एक लाइन के रूप में दर्शाया जाता है जिसकी गणना 12EMA और 26EMA मोमेंटम इंडिकेटर के उपयोग से की जाती है। 12EMA और 26 EMA की गणना शेयर के क्लोजिंग प्राइस के आधार पर की जाती है , समिलन और विचलन को ज्ञात करने के लिए 12 EMA से 24 EMA को घटाया जाता है और MACD ( एमएसीडी ) को ज्ञात किया जाता है।

SIGNAL LINE

SIGNAL LINE को भी चार्ट पर लाइन्स के माध्यम से प्रदर्शित किया जाता है। जोकि 9EMA से कैलकुलेट की जाती है

HISTOGRAM

HISTOGRAM को सामान्यत MACD में बार के रूप प्रदर्षित किया है जो चार कलर की होती है लाल, हल्का लाल , हरा, हल्का हरा , इन बार्स की सहायता से ट्रेंड की स्ट्रेंथ को दर्शाया जाता है।

Buy, Sell or Hold: IRCTC, Mastek और Bata India के इन्वेस्टर्स को क्या करना चाहिए

गुरुवार को शेयर मार्केट में इन्वेस्टर्स को IRCTC, Mastek और Bata India के शेयरों के साथ क्या करना चाहिए.

Buy, Sell or Hold: भारतीय शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुआ. बीयर्स ने बेंचमार्क इंडेक्स को क्रूशियल सपोर्ट लेवल से नीचे धकेल दिया. निफ्टी 18,300 के स्तर से नीचे बंद हुआ जबकि एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स 450 अंक से अधिक गिर गया. हालांकि बुल्स ने बेंचमार्क इंडेक्स को व्यापार के अंत में नुकसान की भरपाई करने में मदद की.

मिड और स्मॉलकैप इंडेक्स का प्रदर्शन कमजोर रहा. एसएंडपी BSE मिड-कैप इंडेक्स लगभग 2 फीसदी गिर गया जबकि एसएंडपी बीएसई स्मॉल-कैप इंडेक्स 2.3 फीसदी गिर गया.

IRCTC: Hold

IRCTC अपने 6,396 के नए उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद तेज गिरावट को देख रहा है. पिछले दो ट्रेडिंग सेशन में इसने अपने सर्वकालिक हाई से 30 फीसदी की गिरावट दर्ज की.

हालांकि इसके काउंटर के लिए फंडामेंटल अभी भी मजबूत हैं, लेकिन वैल्यूएशन को बढ़ा दिया गया है. जबकि पिछले कुछ दिनों से इस शेयर को लेकर काफी उत्साह था, क्योंकि ट्रेडर्स के लिए हर दिन इससे पैसा बनाना बहुत आसान हो गया था.

हम जानते हैं कि मार्केट हमेशा इतना चैरिटेबल नहीं होता है कि आसानी से पैसा बनाने दे, इसलिए हम इसमें एक तेज सुधार देख रहे हैं. इस बात की भी चर्चा है कि सरकार इस काउंटर में हालिया रैली का लाभ लेने के लिए अपनी कुछ हिस्सेदारी को कम सकती है.

तकनीकी रुप से यह 4400 के अपने 20DMA के करीब कारोबार कर रहा है और अगर यह इस स्तर को बनाए रखने में कामयाब होता है तो हम यहा से उछाल की उम्मीद कर सकते हैं. अन्यथा हम और भी गिरावट देख सकते है, जहां 4000-3800 नई बॉइंग पोजीशन के लिए क्रिटिकल डिमांड जोन होगा.

Mastek: Hold

मास्टेक (Mastek) एक मजबूत अपट्रेंड में है और एक अपस्लोपिंग चैनल फॉर्मेशन में आगे बढ़ रहा है जहां इसे अपस्लोपिंग ट्रेंडलाइन प्रतिरोध से तेज सुधार देखा गया; हालांकि, यह निचले ट्रेंडलाइन समर्थन के पास कारोबार कर रहा है जो इसके 50-DMA के साथ मेल खाता है.

2850-2750 का स्तर एक मजबूत मांग क्षेत्र में है और हम यहां से वापस उछाल की उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि मोमेंटम इंडिकेटर RSI भी 40 के समर्थन के पास कारोबार कर रहा है, जबकि अगर यह 2750 के स्तर से नीचे फिसल जाता है तो किसी भी मिनिंगफुल करेक्शन का जोखिम होगा. जहां 2350-2250 मोमेंटम इंडिकेटर अगला सपोर्ट जोन होगा.

Bata India: Hold

बाटा इंडिया (Bata India) एक मजबूत बुलिश मोमेंटम में था; हालांकि, आज इसने उच्च स्तरों पर कुछ लाभ बुकिंग देखी और एक शूटिंग स्टार कैंडलस्टिक फॉर्मेशन का गठन किया जो कि उलटफेर का संकेत है.

मोमेंटम इंडिकेटर RSI भी एक ओवरबॉट क्षेत्र से निगेटिव क्रॉसओवर देख रहा है, जहां अगर बाटा इंडिया 2050 के स्तर से नीचे ट्रेड मोमेंटम इंडिकेटर करना शुरू करता है तो हम और कमजोरी की उम्मीद कर सकते हैं.

20-DMA पहला समर्थन होगा जो वर्तमान में 1917 के स्तर पर रखा गया है जबकि 1800 एक प्रमुख समर्थन होगा. यदि यह 2050 के स्तर को बनाए रखना मैनेज करता है और 2150 के स्तर से ऊपर ट्रेड करना शुरू करता है, तो हम उम्मीद कर सकते हैं कि यह अपनी तेजी की गति को फिर से शुरू कर सकता है.

Disclaimer: The views/suggestions/advice expressed here in this article are solely by investment experts. Zee Business suggests its readers to consult with their investment advisers before making any financial decision.

विस्तार

मजबूत तिमाही नतीजों और वैश्विक बाजारों में सकारात्मक रुख के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और टेक महिंद्रा जैसे बड़े शेयरों में बढ़त के चलते प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स मंगलवार को शुरुआती कारोबार में 300 अंक से अधिक चढ़ गया। इस दौरान 30 शेयरों वाला सूचकांक 318.7 अंक या 0.52 प्रतिशत बढ़कर 61,285.75 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह निफ्टी 93.75 अंक या 0.52 फीसदी बढ़कर 18,219.15 पर पहुंच गया।

इन शेयरों पर मिलेगा अच्छा रिटर्न
पिछले सत्र में 30 शेयरों वाला सूचकांक 145.43 अंक या 0.24 प्रतिशत बढ़कर 60,967.05 पर और निफ्टी 10.50 अंक या 0.06 प्रतिशत बढ़कर 18,125.40 पर बंद हुआ था। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने सोमवार को सकल आधार पर 2,459.10 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.15 फीसदी बढ़कर 85.30 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर था। आज की ट्रेडिंग में ये शेयर जेब भरने वाले हैं। इन शेयरों में पैसे लगाने पर इसका अच्छा रिटर्न मिल सकता है। सेंसेक्स में सबसे अधिक छह प्रतिशत की बढ़त टेक महिंद्रा में हुई। इसके अलावा भारती एयरटेल, बजाज फाइनेंस, टाटा स्टील, एलएंडटी, आईटीसी और एसबीआई भी बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। दूसरी ओर आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, पावरग्रिड, एचयूएल और डॉ रेड्डीज में गिरावट हुई।

रेटिंग: 4.13
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 157
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *